ब्रेकिंग न्यूज

धर्म कर्म

सैयदना साहब ने इंदौर पहुंच की स्वच्छता की तारिफ

Deepak Sungra - indoreexpress.com 06-Sep-2018 05:18 am


इंदौर (सुरेश कपोनिया)।
दाऊदी बोहरा समाज के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन गुरुवार सुबह उज्जैन से सडक़ मार्ग द्वारा इंदौर पहुंचे। वे मुंबई से अवंतिक एक्सप्रेस द्वारा सुबह 7 बजे उज्जैन पहुंचे थे। उज्जैन में तीन घंटे रुकने के बाद उन्होंने इंदौर के लिए प्रस्थान किया। अशरा मुबारका की वाअज के लिए सैयदना साहब नौ दिन शहर में रहेंगे। इस दौरान देश-दुनिया से दो लाख से अधिक श्रद्धालु जुटेंगे।
गुरुवार सुबह सुबह उज्जैन पहुंचने पर सैयदना साहब की अगवानी समाजजनों द्वारा की गई। इसके पश्चात वे कमरी मार्ग स्थित मजारे नजमी पहुंचे जहां उन्होंने 47वें धर्मगुरु दाई सैयदना अब्दुल कादरी नजमुद्दीन की मजार पर जियारत की। उज्जैन से मुहर्रम का आगाज करने के बाद वे 50 वाहनों के काफिले के साथ इंदौर के लिए रवाना हुए।
50 हजार से अधिक समाजजनों ने किया इस्तकबाल-उज्जैन से रवाना होने के बाद लगभग 10.30 बजे सैयदना साहब इंदौर के ट्रांसपोर्ट नगर स्थित सांघी ग्राउंड पहुंचे। यहां बने डोम में 50 हजार से अधिक समाजजनों ने उनका इस्तकबाल किया। स्वच्छता की थीम पर बनाए गए डोम के मंच पर शहर की सभी 13 मस्जिदों और मरकजों के आमिल ने उनका स्वागत किया। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ सहित अन्य वरिष्ठ लोगों ने भी सैदयना साहब का इस्तकबाल किया।
इंदौर की सफाई से प्रभावित हुए सैयदना- समाजजनों को आर्शिवचन देते हुए सैय्यदना साहब ने की इंदौर की स्वच्छता की तारीफ की। उन्होंने इंदौर की हरियाली को भी सराहा। सैयदना साहब ने कहा कि शहरवासी शहर साफ रखने के साथ ही अपने दिल भी साफ रखें। उन्होंने अमन, शांति और भाईचारे सहित मुल्क की तरक्की की दुआ की।
आयोजन में मौके पर ही होगा कचरे का निपटान
बोहरा समाज के धर्मगुरु सैयदना साहब के शहर में होने वाले 9 दिनी कार्यक्रम में एक ओर जहां 2 लाख से ज्यादा श्रद्धालु आएंगे, वहीं नगर निगम ने थ्री आर-डिक्लेरेशन के चलते मौके पर ही कचरे के निपटान की तैयारी कर ली है। महापौर मालिनी गौड़ ने बताया शहर में हुए वन-डे और टी-20 मैच की तर्ज पर निगम की टीम सैफी नगर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में कचरे के निपटान के लिए मुस्तैद रहेगी। मौके पर ही गीले कचरे से खाद बनाने के लिए कम्पोस्ट यूनिट लगेगी। इसी के साथ सूखा कचरा भी अलग-अलग श्रेणी में मौके से ही लिया जाएगा। निगम के अनुसार हर दिन यहां से एक से दो हजार किलो कचरा निकलने की संभावना है। इसी के चलते 10 से ज्यादा लोगों की टीम कचरे के निपटान में जुटेगी। धर्मगुरु से मिलकर समाजजन को भी सफाई के प्रति और अधिक जागरूक रहने और इंदौर को नंबर-1 बनाए रखने का आग्रह किया जाएगा।
श्रद्धालुओं को ठहराने बिल्डर ने दिए 20 फ्लैट
सैयदना साहब द्वारा अशरा फरमाई जाने वाली मुबारका की वाअज के लिए देश-दुनिया से दो लाख से अधिक श्रद्धालु शहर पहुंचने लगे है। शहर में इनके रहने के लिए होटल बुक हो चुके हैं। महंगे दामों में घर और फ्लैट किराए पर दिए जा रहे हैं। आपाधापी के इस माहौल के बीच सामाजिक समरसता की मिसाल भी सामने आई है। बिल्डर नरेंद्र कंधारी ने पीपल्याहाना क्षेत्र की बिल्डिंग को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिया है। पॉश लोकेशन वाली इस बिल्डिंग की सातों मंजिलों के 20 फ्लैट में 200 श्रद्धालु रह सकेंगे। 2400 वर्गफीट आकार के तीन बेडरूम वाले हर फ्लैट में 10 व्यक्तियों के रहने की व्यवस्था की गई है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर