ब्रेकिंग न्यूज

ट्विंकल डागरे की हत्या के आरोपी कल्लू करोतिया ने बड़े भाई के दस्तावेजों पर की नौकरी, अब धोखाधड़ी का केस दर्ज

Deepak Sungra - indoreexpress.com 24-Mar-2020 01:10 am

इंदौर. ट्विंकल डागरे की हत्या के आऱोपी कल्लू करोतिया ने बड़े भाई के दस्तावेजों पर भोपाल स्थित सातवीं बटालियन में आरक्षक के पद पर नौकरी कर ली। अब ट्विंकल के पिता के द्वारा की गई खोजबीन पुलिस को सौंपे गए सबूतों के आधार पर धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ है। 
एमजी रोड पुलिस ने ट्विंकल के पिता संजय डागरे की शिकायत पर कल्लू उर्फ जगदीश करोतिया और उसके भाई बाबूलाल करोतिया निवासी मरीमाता चौराहे के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। संजय डागरे ने बताया कि उन्होंने जानकारी जुटाई तो पता चला कि बाबूलाल करोतिया के नाम से भोपाल की सातवीं बटालियन में 1978 से 1985 तक और इसी दौरान इंदौर नगर निगम में भी नौकरी की गई। जब जांच के लिए दस्जावेज जुटाए तो पता चला कि बाबूलाल के नाम पर कल्लू ने भोपाल में पांच साल तक नौकरी की। 1985 में कल्लू के खिलाफ एक केस दर्ज हुआ और वह गिरफ्तार हुआ तब उसे नौकरी से निकाला गया। इधर बाबूलाल ने इंदौर नगर निगम में भी उसी दौरान नौकरी की। यहां भी उसने बाबूलाल नाम से दस्तावेज दिए थे।
इसी आधार पर एमजी रोड पुलिस ने कुछ माह पहले जीरो पर केस दर्ज कर भोपाल भेजा था। हालांकि वहां से घटना स्थल इंदौर का होने का हवाला देकर एफआईआर वापस भेज दी गई। अब यहां एमजी रोड पुलिस ने रविवार रात को केस दर्ज किया है। उधर, पता चला है कि बाबूलाल और कल्लू ने कई जगहों पर डीआईसी के फर्जी दस्तावेंजो से कब्जे किए और कई जमीने बेच भी दी। फिलहाल उनकी भी जांच चल रही है।

ताज़ा खबर

अपना इंदौर